Press "Enter" to skip to content

5 साल की सजा मिलते ही सलमान खान की आंखों में आंसू!

काला हिरण शिकार मामले में फिल्म अभिनेता सलमान खान को 5 साल की सजा सुनाई गई है।  सजा के बारे में सुनते ही सलमान खान की आंखों से आंसू निकल गए।01 और 02 अक्टूबर 1998 को फिल्म ‘हम साथ-साथ हैं’ की शूटिंग के दौरान सलमान पर जोधपुर के नजदीक कांकाणी गांव सहित तीन अलग-अलग स्थानों पर हिरणों का शिकार करने का आरोप लगा था। सलमान खान की दोनों बहनें भी सजा का ऐलान होते ही कोर्ट परिसर में रोने लगीं। साथ अन्य सभी सह आरोपियों को जोधपुर की स्थानीय अदालत ने बरी कर दिया है। जोधपुर के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट देव कुमार खत्री ने वर्ष 1998 में हुई इस घटना के संबंध में बीते 28 मार्च को मामले की सुनवाई पूरी हो जाने के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया था। Salman Khanसलमान खान की सजा को लेकर काफी बहस हो रही थी। सलमान खान के दो जमानती भी कोर्ट पहुंचे थे लेकिन अब उन्हें 5 साल की सजा और 10 हजार का जुर्माना लगाया है। अन्य आरोपियों सैफ अली खान, नीलम, तब्बू और सोनाली बेंद्रे को बरी कर दिया गया है।  सलमान खान की दोनों बहनें भी कोर्ट में मौजूद हैं। सलमान के वकील ने 3 साल से कम सजा की मांग की थी। वहीं मुंबई में सलमान खान के घर के बाहर कड़ी सुरक्षा कर दी गई है। अदालत ने फैसला सुनाने की तारीख पांच अप्रैल मुकर्रर करते हुए सभी आरोपियों को उपस्थित रहने के निर्देश दिए थे। इसे देखते हुए मुख्य आरोपी सलमान खान के साथ सह-आरोपी अभिनेता सैफ अली खान, अभिनेत्री तब्बू, सोनाली बेंद्र और नीलम बुधवार को ही जोधपुर पहुंच गए थे। Salman Khanकाला हिरण केस में जोधपुर की स्पेशल कोर्ट ने सलमान खान को 5 साल की सजा सुनाई है। फैसला सुनाने के दौरान सलमान खान और उनका परिवार कोर्ट रूम में मौजूद रहा। सलमान खान के साथ उनकी दोनों बहनें अलवीरा और अर्पिता कल से ही जोधपुर में हैं।सलमान को दोषी करार देते ही वहां मौजूद अलवीरा टूट गईं। कोर्ट रूम में ही अलवीरा और अर्पिता फूट-फूटकर रो पड़ीं। भाई के खिलाफ फैसला आते ही वह खुद को संभाल न सकीं। कोर्ट में जज के फैसला सुनाते ही सलमान के चेहरे का रंग उड़ गया। सलमान अकेले खड़े एकटक देखते रह गए। उन्होंने अलवीरा की तरफ देखा और नजरें झुका ली। कुछ देर बाद अलवीरा उनके पास पहुंची और पीने के लिए पानी दिया।Salman Khan5 कारण : जिसकी वजह से सलमान खान के खिलाफ केस काफी मजबूत माना गया। 

1.। गवाह बिश्नोई हैं जो गोली चलने की आवाज सुनने के बाद घर से दौड़कर बाहर निकले। इनमें से दो लोगों ने बाइक से सलमान खान का पीछा भी किया।
2.1998 में हुई इस घटना का सबसे पड़ा सबूत है, जिस जगह पर मृत हिरण मिला था वहां से सलमान खान अपनी जिप्सी में भागे थे। सरकारी वकील भवानी सिंह भाटी का कहना है कि उस रात सभी कलाकार जिप्सी कार में थे, सलमान खान वाहन चला रहे थे। हिरणों का झुंड देखने पर उन्होंने गोली चलाई और उनमें से दो हिरण मार दिए थे।
3 .शिकार का यह तीसरा मामला था जिसके बाद सलमान खान पर केस चला। इस बात की पुष्टि खुद बचाव पक्ष के वकील ने की है। बहरहाल जोधपुर जेल के डीआईजी विक्रम सिंह ने बताया कि फैसले के मद्देनजर जेल में सुरक्षा के चाक चौबंद इंतजाम किए गए हैं।
4.काले हिरण का शिकार (शेड्यूल 1 की प्रजाति) अन्य हिरण की हत्या से ज्यादा गंभीर मामला है। गौरतलब है कि इस मामले में दो अन्य आरोपी दुष्यंत सिंह और दिनेश सिंह हैं। हिरण के शिकार के समय दुष्यंत सिंह कथित रूप से सलमान के साथ था जबकि दिनेश सिंह के बारे में कहा जाता है कि वह सलमान खान का सहायक है।
5.फॉरेंसिक सबूत सबसे अहम है। हिरण के दूसरे पोस्टमॉर्टम में शरीर पर छेद मिले (संभावित रूप से गोलियों के निशान मिले)। बता दें कि सलमान खान वन्यजीव संरक्षण कानून की धारा 51 और अन्य कलाकार वन्यजीव संरक्षण कानून की धारा 51 और भारतीय दंड संहिता की धारा 149 (गैरकानूनी जमावड़ा) के तहत आरोपों का सामना कर रहे हैं।

Comments

comments

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.